विश्व खाद्य भारत-2017

0
222
  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने 3 नवंबर, 2017 को नई दिल्‍ली के विज्ञान भवन में विश्‍व खाद्य भारत-2017 का उद्घाटन किया।
  • इस तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन केन्‍द्रीय खाद्य प्रसंस्‍करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल के दिशा-निर्देश के तहत खाद्य प्रसंस्‍करण मंत्रालय द्वारा किया गया है।
  • उद्घाटन समारोह में अर्मेनिया के राष्‍ट्रपति एच.ई श्रीसर्ज सर्गेसन, लातविया प्रधान मंत्री एच.ई. श्री मैरिस कुसिन्स्कीस, इटली के आर्थिक विकास के उपमंत्री पीटर ब्लेसर, जर्मनी के खाद्य व कृषि के संघीय मंत्री एस्बेन लुंडे लार्सन और डेनमार्क के पर्यावरण और खाद्य मंत्री भी उपस्थित थे।
  • भारत में पहली बार विश्‍व खाद्य सम्‍मेलन आयोजित किया गया है।
  • इस ऐतिहासिक अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने निवेश बंधु (http://foodprocessingindia.co.in/) पोर्टल या इन्‍वेस्‍टर फ्रेंड का शुभारंभ किया।
  • इस पोर्टल में केंद्र व राज्‍य सरकारों की नीतियां तथा खाद्य प्रसंस्‍करण प्रक्षेत्र के अंतर्गत दी जा रही रियायतों की जानकारी होगी।
  • यह व्‍यवसायियों, किसानों, व्‍यापारियों, प्रसंस्‍करण से जुड़े लोगों और लॉजिस्‍टिक संचालकों के लिए एक साझा मंच होगा।
  • प्रधानमंत्री ने भारतीय व्‍यंजन पर एक स्‍मारक टिकट और एक कॉफी टेबल बुक को जारी किया।
  • भारत को वर्ष 2016 में ग्रीनफील्‍ड निवेश में प्रथम स्‍थान प्राप्‍त हुआ था।
  • वर्ल्ड फूड इंडिया में जर्मनी, जापान और डेनमार्क सहभागी देश हैं, जबकि इटली और नीदरलैंड फोकस देश हैं।
  • विश्‍व खाद्य भारत 2017 के उद्घाटन दिवस में 68,000 करोड़ रुपये के बराबर के 13 समझौता ज्ञापनों पर हस्‍ताक्षर किए गए।

संभावित प्रश्न

प्रश्न:- निम्नलिखित में से कौन-सा देश विश्व  खाद्य भारत-2017 में सहयोगी देश नहीं था?

(a) जर्मनी           (b) इटली

(c) डेनमार्क         (d) जापान

उत्तर – (b)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here