फुटवियर डिजाइन एवं विकास संस्थान (एफडीडीआई) ‘राष्ट्रीय महत्व का संस्थान’ घोषित

0
266
  • फुटवियर डिजाइन एवं विकास संस्‍थान (FDDI) को 16 अक्टूबर, 2017 को भारत सरकार के वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय के अधीन राष्‍ट्रीय महत्‍व का संस्‍थानघोषित किया गया है।
  • ध्यातव्य है की एफडीडीआई विधेयक जुलाई, 2017 में संसद में पारित किया गया था।
  • 5 अक्‍टूबर, 2017 को भारत के राजपत्र में प्रकाशित अधिसूचना के अनुसार, एफडीडीआई अधिनियम 2017 के प्रावधान 16 अक्टूबर, 2017 से प्रभावी हो गए हैं।
  • वर्तमान में एफडीडीआई भारत भर में फैले 8 परिसरों में लगभग 2500 छात्रों को फुटवियर, चमड़े के सामान, खुदरा और प्रबंधन के क्षेत्रों में कौशल आधारित स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम प्रदान कर रहा है।
  • एफडीडीआई को ‘राष्‍ट्रीय महत्‍व के संस्‍थान’ का दर्जा प्राप्त होने के बाद यह संस्थान अब अपने कुल 12 परिसरों में आगामी दाखिला सत्र में 2,500 और अधिक छात्रों का नामांकन करने में समर्थ हो जाएगा।
  • इनमें से चार नए परिसर अगले शैक्षणिक सत्र से कार्यरत हो जाएंगे।

संभावित प्रश्न

प्रश्न:- फुटवियर डिजाइन एवं विकास संस्थान (FDDI) को 16 अक्टूबर, 2017 को भारत सरकार के किस मंत्रालय के अधीन राष्ट्रीय महत्व का संस्थानघोषित किया गया है?

(a) रेल मंत्रालय      (b) वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय

(c) गृह मंत्रालय      (d) विदेश मंत्रालय

उत्तर- (b)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here