पीएसएलवी-सी44 द्वारा माइक्रोसैट–आर और कलामसैट-वी2 का प्रक्षेपण

0
529
  • भारत के प्रक्षेपण यान, पोलर सैटेलाइट लांच व्हीकल (पीएसएलवी-सी44) ने माइक्रोसैटआर और कलामसैट-वी2 को उनकी निर्धारित कक्षाओं में सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया।
  • पीएसएलवी-सी44 ने 24 जनवरी, 2019 को 23 : 37 बजे (आईएसटी) सतीश धवन स्पेस सेंटर एसएचएआर, श्री हरिकोटा के फर्स्ट लांच पैड से उड़ान भरी जो इसकी 46वीं उड़ान थी।
  • उड़ान भरने के लगभग 13 मिनट 26 सेकंड के बाद माइक्रोसैट-आर को 274 किमी की निर्धारित कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित किया गया।
  • प्रक्षेपण के बाद सैटेलाइट की दो सौर श्रृंखलाएं स्वतः स्थापित हो गई और बेंगलुरू स्थित इसरो टेलीमेट्री ट्रैकिंग और कमांड नेटवर्क (आईएसटीआरएसी) ने सैटेलाइट की नियंत्रण में ले लिया।
  • इसके पश्चात् प्रक्षेपण यान के चौथे चरण (पीएस4) को परीक्षण के उद्देश्य से 453 किमी की अधिक की वृत्ताकार ऊँचाई पर कक्षा-स्थापना के लिए भेजा गया।
  • उड़ान भरने के 1 घंटा 40 मिनट के बाद कलामसैट-वी2 जो एक छात्र पेलोड है, को पूर्व निर्धारित कक्षा में स्थापित किया गया।
  • इसमें कक्षीय-प्लेटफार्म के रूप में पीएस4 का पहली बार उपयोग किया गया।
  • यह उड़ान पीएसएलवी-डीएल का पहला मिशन था जो पीएसएलवी का नवीन संस्करण है। इसमें मोटर से दो पट्टियां जुड़ी हुई हैं।
  • पीएसएलवी का पिछला लांच (पीएसएलवी-सी43) 29 नवंबर को हुआ था जिसमें भारत के एचवाईएसआईएस (HysIS) तथा अन्य देशों के 30 सैटेलाइट्स को सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया गया था।

संभावित प्रश्न

प्रश्न- 24 जनवरी, 2019 को भारत के कौन-से प्रक्षेपण यान से  माइक्रोसैटआर और कलामसैट-वी2 को उनकी निर्धारित कक्षाओं में सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया गया ?

(a) पीएसएलवी-सी48

(b) पीएसएलवी-सी44

(c) जीएसएलवी-सी44

(d) पीएसएलवी-सी40

उत्तर – (b)

संबंधित लिंक :-

http://pib.nic.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1561363

https://www.isro.gov.in/update/25-jan-2019/pslv-c44-successfully-launched-microsat-r-and-kalamsat-v2

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here