गरीब कल्याण रोजगार अभियान

0
168
  • 20 जून, 2020 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बड़े पैमाने पर रोजगार और ग्रामीण सार्वजनिक कार्यों से संबंधित गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ (Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan) का शुभारम्भ किया।
  • इसका उद्देश्य कोविड-19 महामारी से प्रभावित बड़ी संख्या में घर वापस लौटने वाले प्रवासी कामगारों को सशक्त बनाना और अपने क्षेत्रों/गांवों में आजीविका के अवसर मुहैया कराना है।
  • 20 जून (शनिवार) को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से ग्राम तेलीहर, विकासखंड बेलदौर, जिला खगड़िया, बिहार से शुरू किया गया।
  • 125 दिन का यह अभियान मिशन के रूप में काम करेगा।
  • इसमें 116 जिलों में 25 श्रेणी के कार्यों/ गतिविधियों के कार्यान्वयन पर ध्यान केन्द्रित होगा।
  • इसमें 6 राज्यों बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, झारखंड और ओडिशा में लौटने वाले प्रवासी कामगारों पर ज्यादा जोर होगा।
  • इस अभियान के दौरान कराए गए सार्वजनिक कार्यों के लिए 50,000 करोड़ रुपये के संसाधन निर्धारित होंगे।
  • यह अभियान 12 विभिन्न मंत्रालयों/ विभागों ग्रामीण विकास, पंचायती राज, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, खनन, पेयजल एवं स्वच्छता, पर्यावरण, रेलवे, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस, नवीन एवं नवीनीकृत ऊर्जा, सीमावर्ती सड़कें, दूरसंचार और कृषि का मिला-जुला प्रयास है।
  • इस पहल के प्रमुख उद्देश्य इस प्रकार हैं :-
  1. वापस लौटने वाले कामगारों और प्रभावित ग्रामीण कामगारों को आजीविका के अवसर उपलब्ध कराना।
  2. गांवों में सार्वजनिक आधारभूत ढांचे का विस्तार और सड़क, आवास, आंगनवाड़ी, पंचायत भवन, विभिन्न आजीविका संपदाएं और सामुदायिक भवन आदि आजीविका के अवसर तैयार करना।
  3. विविध प्रकार के कार्यों के समूह से सुनिश्चित होगा कि हर प्रवासी कामगार को आने वाले 125 दिन में उसके कौशल के आधार पर रोजगार के अवसर मिले। यह कार्यक्रम दीर्घावधि में आजीविका के विस्तार और विकास के लिए भी तैयार होगा।
  • ग्रामीण विकास मंत्रालय इस अभियान के लिए नोडल मंत्रालय है और अभियान को राज्य सरकारों के साथ सामंजस्य में लागू किया जाएगा। संयुक्त सचिव और इससे ऊपर की रैंक के केन्द्रीय नोडल अधिकारियों को चिह्नित जिलों में विभिन्न योजना के प्रभावी और समयबद्ध कार्यान्वयन की नियुक्त किया जाएगा।
  • राज्यों की सूची, जहां ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ को आरंभ किया जाएगा :-
क्र. सं. राज्य का नाम #जिले आकांक्षी जिले
1 बिहार 32 12
2 उत्तर प्रदेश 31 5
3 मध्य प्रदेश 24 4
4 राजस्थान 22 2
5 ओडिशा 4 1
6 झारखंड 3 3
कुल जिले 116 27

 

  • प्राथमिकता के आधार पर लक्षित 25 कार्यों और गतिविधियों की सूची निम्नलिखित तालिका में उल्लिखित है :-
क्र. सं. कार्य/ गतिविधि क्र. सं. कार्य/ गतिविधि
1 सामुदायिक स्वच्छता केन्द्र (सीएससी) का निर्माण 14 मवेशी घरों का निर्माण
2 ग्राम पंचायत भवन का निर्माण 15 पोल्ट्री शेड्स का निर्माण
3 14वें एफसी कोष के तहत कार्य 16 बकरी शेड का निर्माण
4 राष्ट्रीय राजमार्ग कार्यों का निर्माण 17 वर्मी कम्पोस्ट ढांचों का निर्माण
5 जल संरक्षण और फसल कटाई कार्य 18 रेलवे
6 कुओं को निर्माण 19 आरयूआरबीएएन
7 पौधारोपण कार्य 20 पीएम कुसुम
8 बागवानी 21 भारत नेट
9 आंगनवाड़ी केन्द्रों का निर्माण 22 कैम्पा पौधारोपण
10 ग्रामीण आवासीय कार्यों का निर्माण 23 पीएम ऊर्जा गंगा परियोजना
11 ग्रामीण संपर्क कार्य 24 आजीविका के लिए केवीके प्रशिक्षण
12 ठोस और तरल कचरा प्रबंधन कार्य 25 जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट (डीएमएफटी) कार्य
13 कृषि तालाबों का निर्माण

 

संभावित प्रश्न

प्रश्न-20 जून, 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़े पैमाने पर रोजगार और ग्रामीण सार्वजनिक कार्यों से संबंधित गरीब कल्याण रोजगार अभियानका शुभारम्भ किया।  इस अभियान में कितने राज्यों को चुना गया है?

(a) 18                              (b) 12

(c) 6                                (d) 5

उत्तर-(c)

प्रश्न-गरीब कल्याण रोजगार अभियानके अंतर्गत किस राज्य के सर्वाधिक जिले सम्मिलित किये गए है ?

(a) उत्तर प्रदेश                      (b) बिहार

(c) मध्य प्रदेश                       (d) राजस्थान

उत्तर-(b)

संबंधित लिंक :-

https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1632861

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here