कंचनजंघा : यूनेस्को के वर्ल्ड नेटवर्क ऑफ बायोस्फियर रिजर्व्स से जुड़ने वाला भारत का 11वां बायोस्फियर रिजर्व

0
304
  • 23-27 जुलाई, 2018 के मध्य पालेम्बांग, इंडोनेशिया में मानव और जैवमंडल कार्यक्रम की अंतरराष्ट्रीय समन्वय परिषद की 30वें सत्र का आयोजन किया गया।
  • इस सत्र में भारत के सिक्किम स्थित कंचनजंघा जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र को यूनेस्को के संरक्षित जैवमंडलों के विश्व नेटवर्क में शामिल किया गया।
  • यह यूनेस्को के संरक्षित जैवमंडलों के विश्व नेटवर्क में शामिल होने वाला भारत का 11वां जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र हैं।
  • कंचनजंघा बायोस्फियर रिजर्व हिमालय की वैश्विक जैवविविधता के केंद्र में है और यहां उप-उष्णकटिबंधीय से लेकर अल्पाइन पारिस्थितिकी तंत्र का एक व्यापक और अनूठा सिलसिला देखने को मिलता है।
  • इसके केंद्रीय (कोर) जोन में 150 हिमनदियां और 73 बर्फानी झीलें हैं।
  • इनमें से सबसे प्रमुख, मशहूर जेमु हिमनद है जिसकी लंबाई 26 किमी है।
  • यहां जंतुओं की कई ऐसी नस्लें पाई जाती हैं जिनका अस्तित्व वैश्विक तौर पर खतरे में है जैसे कस्तूरी मृग, बर्फ में रहने वाला तेंदुआ, लाल पांडा और हिमालयन तहर।
  • यह लेपचा, नेपालीज़ और भूटिया समेत अनेक स्थानीय समुदायों का निवास स्थान भी है।
  • कंचनजंघा बायोस्फियर रिज़र्व के भीतर कंचनजंघा राष्ट्रीय पार्क की पहचान सिक्किम के सबसे अहम बर्ड एरिया अर्थात पक्षी क्षेत्र के रूप में की गई है, जहां पूर्वी हिमालय की 130 स्थानीय प्रजातियां और संरक्षित पक्षियों की 212 प्रजातियां रहती हैं, जिनमें से 7 को वैश्विक तौर पर खतरे के दायरे में आने वाली प्रजातियां माना जाता है।
  • मैन एंड बायोस्फियर प्रोग्राम के वर्ल्ड नेटवर्क ऑफ बायोस्फियर रिजर्व्स (डब्ल्यूएनबीआर) में 120 देशों में स्थित 669 बायोस्फियर रिजर्व हैं जिनमें 20 ऐसी जगहें भी शामिल हैं जो एक से अधिक देशों की सीमाओं के भीतर फैली हुई हैं।

संभावित प्रश्न

प्रश्न- यूनेस्को के वर्ल्ड नेटवर्क ऑफ बायोस्फियर रिजर्व्स से जुड़ने वाला भारत का 11वां बायोस्फियर रिजर्व कौन है

(a) कंचनजंघा               (b) निलगिरी

(c) सिमलिपाल              (d) नोकरेक

उत्तर – (a)

संबंधित लिंक :

http://www.unesco.org/new/en/newdelhi/about-this-office/single-view/news/khangchendzonga_is_the_11th_biosphere_reserve_to_be_added_to/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here